Saturday, March 3, 2012

♥~~MY YARA G~~♥

‎जिस घड़ी उसको मेरे रब ने बनाया होगा ,
उसका सिंगार फरिस्तो से कराया होगा ,
उसकी जुल्फों को घटाओ में भिगोया होगा ,
उसकी आँखों को झीलों सा गहरा बनाया होगा ,
उसके होंठो पर गुलाबो को निचोड़ा होगा ,
चाँद के नूर से उसको नहलाया होगा ,
सारी परियो ने मिलके उसको सजाया होगा ,
सारी कलियों का तसव्वुर उसको बक्शा होगा ,
कोयल का कर्नुर उसको सौपा होगा ,
उसकी पलकों पर सितारों को सजाकर ,
रब ने सारी दुनिया से जुदा बनाकर ,
हुस्न का नाम किताबो से मिटाया होगा....

1 comment: