Friday, January 14, 2011

life में ऐसा क्यों होता है 
जिसे तुम चाहो वो तुमसे दूर क्यों होता है 
चाह कर भी पा नहीं सकते उसको लेकिन चाह फिर भी जाता है 
किसी को तुम कैसे भुला सकते हो 
जब वोह तुम्हारे इतना करीब आ जाता है कि 
न चाह कर भी तुम उसके खयालो को अपने दिल से नहीं निकल सकते 
वक़्त भी कितनी ज़ालिम चीज़ है 
अपने साथ साथ न जाने कैसे कैसे तूफ़ान लाती है 
जिनमे हम जैसे न चाह कर भी 
इतनी बुरी तरह फँस जाते है कि 
निकलते निकलते उन्हें भी पीछे छोड़ जाते है 
जो हमारे अपने 
कुछ भी हो कहीं भी हो कहीं न कहीं कुछ छूट जाता है 
उसकी याद हमे तब आती है 
जब वो हमसे दूर हो जाता है 
पास होकर भी कोई इतना अच्छा नहीं लगता 
जब दूर हो जाता है तो रोना आता है 
काश वो हमारे पास होता 
लेकिन अफ़सोस वो हमसे दूर होता ही जाता है 
बात सिर्फ इतनी सी है कि हम पहल ना करें 
लेकिन सोचने सोचने में ही उम्र निकल जाती है 
सोच कर देखना कि तुमने क्या खोया है क्या पाया है 

My life's rule is "aLwAYs bE HaPpY"
but problem is that i can't..

No comments:

Post a Comment